जिले में आपदा से निपटने के लिए जिला प्रशासन ने प्रत्येक तहसील स्तर खोले कंट्रोल रूम।

0
83

चमोली – मानसून सीजन को देखते हुए चमोली जिला प्रशासन ने कमर कस ली है। चमोली जिले में आपदा से निपटने के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रत्येक तहसील स्तर पर आपदा कंट्रोल रूम खोले गए है। जोशीमठ से बद्रीनाथ, हेमकुंड साहिब यात्रा को देखते हुए अतिसंवेदनशील केंद्र बनाया गया है।

जिला चमोली में 31 संवेदनशील क्षेत्र है। इन संवेदनशील क्षेत्रों में आपदा नियंत्रण हेतु जिलाधिकारी द्वारा अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। हाईवे बाधित होने पर जगह जगह जेसीबी, पोकलैंड मशीनें लगाई गई है, आपदा से निपटने के लिये एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, आपदा प्रंबधन की टीम के साथ साथ स्थानीय पुलिस के जवानों को भी अलर्ट मौड़ पर रहने के निर्देश दिए गए है। जहाँ नेटवर्क की समस्या हो वहाँ सैटेलाइट फोन दिए गए है। संवेदनशील क्षेत्रों में राशन पहुंचा दिया गया है। बिजली, पानी की समस्या न हो इसके लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को भी निर्देशित किया गया है। राजमार्ग बाधित न हो इसके लिये एन एच, बी आर ओ को भी अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here