उपजिलाधिकारी ने सेना और तीन गांवों के रस्ते के विवाद पर की कार्यवाही।

0
70

हरिद्वार/रुड़की – पिछले लंबे समय से चले आ रहे सेना और भंगेड़ी महावतपुर व जलालपुर सहित तीन गांव का रास्ता रोके जाने को लेकर उप जिलाधिकारी रुड़की अंशुल सिंह ने कार्यवाही करते हुए सेना को 133 के तहत नोटिस जारी किया है।

बता दें कि पिछले लंबे समय से सेना और ग्रामीणों के साथ रास्ता रोके जाने को लेकर विवाद चला आ रहा था। जिसमें समय-समय पर स्थानीय ग्रामीणों एवं किसान संगठनों के द्वारा भी धरना प्रदर्शन किया गया था।

वहीं भारतीय किसान यूनियन रोड़ के बैनर तले भी अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किया गया था। जिस पर कार्यवाही करते हुए उपजिलाधिकारी रुड़की अंशुल सिंह ने 133 के तहत सेना को नोटिस जारी किया गया है।

इस दौरान उप जिलाधिकारी रुड़की अंशुल सिंह ने कहा कि कोरोना काल के समय से सेना के द्वारा ग्रामीणों का रास्ता रोका गया था जिसे ग्रामीणों के सामने कड़ी कठिनाइयां आ रही थी। यह विवाद पिछले काफी लंबे समय से चल रहा था, वही रास्ता रोके जाने से स्थानीय ग्रामीणों के साथ-साथ स्कूली बच्चों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। उन्हें 8 से 10 किलोमीटर घूम कर आना पड़ता था और वह रास्ता सुरक्षित भी नहीं था। इसी पर कार्यवाही करते हुए उनके द्वारा 133 के तहत नोटिस जारी किया गया है जिसमें अब यह मामला न्यायालय में चलेगा और जो भी न्यायालय द्वारा आदेशित कार्यवाही होगी उसी के अनुसार अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।

वहीं भारतीय किसान यूनियन रोड़ के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी पदम रोड ने कहा कि उन्हें आश्वासन दिया गया है कि सेना को नोटिस जारी किया जा रहा है और मुकदमा भी किया जाएगा और उन्हें आशा है कि जल्द ही यह मामला सुलझ जाएगा, क्योंकि उप जिलाधिकारी महोदय ने उन्हें 15 तारीख तक का समय दिया है और यदि यह मामला नहीं सुलझता है तो फिर से वह अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here