मालरोड में बढ़ते अतिक्रमण और अव्यवस्थाओं पर एसडीएम ने जताई नाराजगी, अधिकारी को तत्काल कार्यवाही के दिये निर्देश।

0
36

देहरादून – मसूरी माल रोड में शौचालयों की कमी और पुराने शौचालयों के मरम्मत किये जाने को लेकर मसूरी नरेश दुर्गापाल ने मसूरी नगर पालिका और मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ मसूरी माल रोड के कई क्षेत्रों का निरीक्षण किया वही माल रोड पर स्थित शौचालय पर हो रखे कब्जों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए अधिशासी अधिकारियों को सभी शौचालयों से तत्काल कब्जों को हटाने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि नगरपालिका की संपत्ति पर लोग खुलेआम कब्जा कर रहे हैं परंतु नगर पालिका के अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि मसूरी माल रोड पर भी लगातार अतिक्रमण कर लोग पटरी लगाने का काम कर रहे है जिससे मालरोड अव्यस्थित से लगने लगी है। उन्होंने अधिशासी अधिकारी से तत्काल माल रोड पर अनाधिकृत रूप से हो रहे अतिक्रमण को हटाने की निर्देश दिए। बता दे कि मसूरी माल रोड में शौचालय की भारी कमी है जिससे लोगों को खासी दिक्कतें पेश आती है ऐसे में हाल में ही भाजपा मंडल अध्यक्ष मोहन पेटवाल द्वारा मसूरी के पिक्चर पैलेस चौक सहित अन्य चौकों पर शौचालय न होने को लेकर नाराजगी व्यक्त कर धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी थी।

जिसके बाद  एसडीएम मसूरी ने मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण और नगर पालिका के अधिकारियों के साथ मालरोड पर शौचालयों के निर्माण के लिये जगह को चिन्हित किया गया और मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण को सभी शौचालयों को मरम्मत करने के साथ बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए। उन्होंने नगरपालिका को भी निर्देश दिए कि उनके अधीन आने वाले सभी शौचालयों को साफ सुथरा और बेहतर किया जाए जिससे लोगों के साथ पर्यटकों को मूलभूत सुविधाओं के लिये दिक्कत ना हो।
स्थानीय लोगों ने प्रशासन के द्वारा मसूरी मालरोड मे र्प्यटकों के साथ स्थानीय लोगो को मूलभूत सुविधाये और शौचालयों को लेकर र्प्यटन सीजन शुरू किये जाने को सवाल खड़े किए हैं उन्होंने कहा कि प्रशासन, मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण और नगर पालिका के अधिकारी काफी देर से जागे है। उन्होंने कहा कि जो काम दिसंबर जनवरी में होने थे वह काम पर्यटन सीजन शुरू होने पर किया जा रहा है जिससे स्थानीय लोगों के साथ देश विदेश से मसूरी आने वाले पर्यटकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि देखा जा रहा है कि प्रशासन मसूरी की व्यवस्थाओं को बेहतर किए जाने को लेकर कोई ठोस रणनीति के तहत काम नहीं कर रहा है। मसूरी माल रोड मच्छी बाजार बन चुका है परंतु ना तो इस ओर नगर पालिका और ना ही स्थानीय प्रशासन ध्यान दे रहा है कार्यवाही के नाम पर मात्र खानापूर्ति की जा रही है जबकि धरातल पर कुछ भी नजर नहीं आ रहा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर मसूरी में प्रशासन सख्त होता तो मसूरी में अव्यवस्थाओं का आलम नही होता। उन्होने कहा कि प्रशासन और मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण द्वारा सीजन शुरू होने पर सब काम कराए जा रहे हैं जिससे लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है ऐसे में मसूरी के विकास के लिए नियोजित प्लान की जरूरत है जिसको लेकर सभी संबंधित अधिकारियों को संयुक्त रूप से पहल करनी होगी अन्यथा हर साल इस तरीके की कार्रवाई और निर्णय लिए जाते हैं परंतु धरातल पर परिणाम शुन्य ही देखने को मिलेगा। एसडीएम मसूरी नरेश दुर्गापाल और अधिशासी अधिकारी यूडी रतूड़ी ने मसूरी में अव्यवस्थाओं ओर र्प्यटन सीजन में मालरोड का बेहतर बनाये जाने मेें हो रही देरी के मीडिया के सवालों से बचते हुए नजर आये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here