कुमाऊं के सभी अधिकारियों के साथ वन मंत्री ने की अहम बैठक।

0
40

नैनीताल – वन मंत्री ने आज कुमाऊं के सभी आला अधिकारियों के साथ अहम बैठक की, वहीं उन्होंने किसी भी मामले में दोषी पाए जाने वाले अधिकारियों को सही कार्य करने की हिदायत भी दी।

रामनगर पहुंचे वन मंत्री ने कुमाऊं के सभी आला अधिकारियों के साथ आज शाम को एक निजी रिसोर्ट में अहम बैठक की। इस दौरान उन्होंने कहा कि उन्होंने पहले महीने में ही 10 लोगों को भ्रष्टाचार के आरोप में जेल भेजा है। उन्होंने सभी अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए सही कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आज मैंने एक इंट्रोडकटीव मीटिंग की जिसमें मैंने अपनी सभी प्राथमिकताएं बताई है, कि किस तरह वन विभाग को हमने अब पब्लिक फ्रेंडली बनाना है, क्योंकि हम सभी लोग जनता के लिए हैं। जंगल भी बचे और जनता की आजीविका से भी हम जुड़े, इस पर काम करने की आवश्यकता है, पारदर्शिता के तहत, निष्पक्षता के साथ, ईमानदारी के साथ काम करने की मुख्य बातें हुई हैं।

उन्होंने कहा कि मेरा फोकस है कि हम विभाग को जन सहभागिता के साथ चला कर वन और पर्यावरण दोनों को बचाने का प्रयास करें और यही मेरी प्राथमिकताएं हैं। यूनिफॉर्म सिविल कोड को लेकर उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालय के न्यायाधीश रंजना देसाई की अध्यक्षता में कमेटी बनी है, जिसमें पूर्व सचिव शत्रुघ्न सिंह आदि लोगों को शामिल किया गया है और उनसे अपेक्षा की गई है कि पूरे यूनिफॉर्म सिविल कोड पर तत्काल रिपोर्ट शासन को भेजें। उन्होंने कहा कि कॉर्बेट विश्व विख्यात है जो देश विदेश में जाना जाता है उन्होंने कहा कि पर्यावरण को बचाने के लिए भी कॉर्बेट महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। इसमें कोई भी अधिकारी दोषी पाया गया तो कार्रवाई होगी और अभी हुई भी है। उन्होंने कहा कि कॉर्बेट लोगों को नेचर के साथ जोड़ने के साथी मनोरंजन में भी एक अहम भूमिका अदा करता है, साथ ही उन्होंने कहा कि लंबे समय से एक ही जगह पर तैनात कर्मचारियों व अधिकारियों को तत्काल ट्रांसफर किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here